क्या सम्मोहन की सहायता से Meditation को प्राप्त किया जा सकता है|

दोस्तों आज हम इस ब्लॉग में जानेंगे की क्या Meditation को Hpnosis के द्वारा आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

सम्मोहन एक विज्ञान है। इसका दो तरफ़ा इस्तेमाल हो सकता है। इसका प्रयोग कोई बुराई के लिए भी कर सकता है। और किसी के भले के लिए भी किया जा सकता है। इसके जरिये आपके भीतर जो {illutions} है उनको तोडा जा सकता है। सभी प्रकार के ध्यान की शुरुवात सम्मोहन की क्रिया से होती है। जिसमे आपके दिमाग को गहरी तन्द्रा में ले जाया जाता है। फिर उसे सुझाव दिया जाता है।  सम्मोहन और ध्यान में एक ही अंतर है। बो है साक्षी भाव। साक्षी भाव का अर्थ है की अपनी सभी क्रियाओ के प्रति सजगता। आप क्या कर रहे हो । क्या सोच रहे हो इसका पता आपको हो। बही है साक्षी भाव। जादातर हमारी {Zindagi} सोए- सोए ही गुजर जाती है। हमे इसका कुछ नही पता लगता कब हम जवान हुए। और कब हम बूढे हो गए। यह भी एक प्रकार का सम्मोहन है। एक गहरी तन्द्रा है। इसे तोड़ने के लिए । ध्यान सबसे सहयोगी क्रिया है। जब तुम्हे कोई सम्मोहित करता है। 

वो सिर्फ तुम्हे मूर्छित करता है। सम्मोहन मोर्चा के अतिरिक्त और कुछ नही। सम्मोहन से बचने के किये आपको साक्षी भाव को कायम रखना होगा। अगर सम्मोहन का प्रयोग बेहोशी लेने के लिए किया जाता है। तो इसके बिपरीत, आपकी बेहोशी तोड़ने के लिए इसका प्रयोग भी किया जा सकता है। हमारी {Aatma} के और की यात्रा हमारे मन से ही शुरू होती है।कियो की हम अपने मन से ही सोचते है। यह यात्रा दो प्रकार की होती है। पहली {Yatra} में आप मन के भीतर ही चक्र लगाने लगते हो।

 

अपने ही विचारो में उलझ के रह जाते हो। एक तरह के भूल भुलैया में गुम होने वाली स्थिति हो जाती है। और दूसरी तरफ हो सकता है की आप जात्रा करते अपने मन के बहार निकल जाओ । दोनों हालत में आपको मन से ही गुजरना पड़ेगा। सम्मोहन का प्राथमिक चरण बही है। जो की ध्यान का। परंतु अंतिम चरण अलग अलग है। और दोनों का लक्ष्य भिन्न है। दोनों की प्रक्रिया में एक बुनियादी तत्व यह है की सम्मोहन चाहता है । 

तत्काल मोर्चा, और ध्यान चाहता है। इसलिए सम्मोहन का सारा सुझाव नींद से शुरू होगा। इसमें पहले आपको गहरी नींद में ले जाये गे। उसके बाद आपको सुझाव दिया जाये गा। अगर आप जागृत हो तो आप कभी भी सम्मोहित नही हो सकते। सम्मोहित सिर्फ बेहोस ब्यक्ति ही हो सकता है।सम्मोहन से ब्यक्ति को Samadhi से मिलती जुलती अवस्था में लाया जा सकता है। पर याद रहे की सम्मोहन समाधी नही। यह तो सिर्फ ध्यान की शुरुवात है।    

तो अब आप समज़ह ही गए होंगे। की Meditation और Hypnosis के बीच का तालमेल क्या है।

Related post

बिजली का बिल-electricity bill देख युवक के उड़े होश, जानिए पूरा मामला
बिजली का बिल-electricity bill देख युवक के उड़े होश, जानिए पूरा मामला
Shri Guru Granth Sahib जी की खूबसूरत पंक्तियां के मतलब जाने।
Shri Guru Granth Sahib जी की खूबसूरत पंक्तियां के मतलब जाने।
यह है दही खाने के 10 सबसे महत्वपूर्ण फायदे। 10 Benefits of Curd
यह है दही खाने के 10 सबसे महत्वपूर्ण फायदे। 10 Benefits of Curd
आईये जानते है सम्पूर्ण Ram Katha के बारे में वो भी हिंदी में।
आईये जानते है सम्पूर्ण Ram Katha के बारे में वो भी हिंदी में।
10 सबसे बेहतरीन Good Morning Message जिसे आप अपने दोस्तों को भेज करे दिन की अच्छी शुरुवात।
10 सबसे बेहतरीन Good Morning Message जिसे आप अपने दोस्तों को भेज करे दिन की अच्छी शुरुवात।
10 सबसे बेहतरीन Good Night Message जो आपके दोस्तों को सोने से पहले अच्छी सी मुस्कुराहट दे।
10 सबसे बेहतरीन Good Night Message जो आपके दोस्तों को सोने से पहले अच्छी सी मुस्कुराहट दे।
योगनिद्रा-Yoga Nidra एक ऐसी क्रिया है जिसे अपनाकर आप समस्त चिंताओं से मुक्त हो सकते हो।
योगनिद्रा-Yoga Nidra एक ऐसी क्रिया है जिसे अपनाकर आप समस्त चिंताओं से मुक्त हो सकते हो।
हिन्दू धर्म की 7 प्रमुख परम्पराये और उनके पीछे का वैज्ञानिक सच।
हिन्दू धर्म की 7 प्रमुख परम्पराये और उनके पीछे का वैज्ञानिक सच।

Leave A Comment