क्या Hypnosis की सहायता से Meditation को प्राप्त किया जा सकता है।

HYPNOSIS-सम्मोहन एक विज्ञान है। इसका दो तरफ़ा इस्तेमाल हो सकता है। इसका प्रयोग कोई बुराई के लिए भी कर सकता है। और किसी के भले के लिए भी किया जा सकता है। इसके जरिये आपके भीतर जो illutions है उनको तोडा जा सकता है। सभी प्रकार के ध्यान की शुरुवात Hypnosis की क्रिया से होती है। जिसमे आपके दिमाग को गहरी तन्द्रा में ले जाया जाता है। फिर उसे सुझाव दिया जाता है।

hypnosis

सम्मोहन-Hypnosis और ध्यान में एक ही अंतर है। बो है साक्षी भाव।साक्षी भाव का अर्थ है की अपनी सभी क्रियाओ के प्रति सजगता। आप क्या कर रहे हो । क्या सोच रहे हो इसका पता आपको हो। बही है साक्षी भाव। जादातर हमारी Zindagi सोए- सोए ही गुजर जाती है। हमे इसका कुछ नही पता लगता कब हम जवान हुए। और कब हम बूढे हो गए। यह भी एक प्रकार का सम्मोहन है। एक गहरी तन्द्रा है। इसे तोड़ने के लिए । ध्यान सबसे सहयोगी क्रिया है। जब तुम्हे कोई सम्मोहित करता है।

वो सिर्फ तुम्हे मूर्छित करता है। सम्मोहन मोर्चा के अतिरिक्त और कुछ नही। सम्मोहन से बचने के किये आपको साक्षी भाव को कायम रखना होगा। अगर सम्मोहन का प्रयोग बेहोशी लेने के लिए किया जाता है। तो इसके बिपरीत, आपकी बेहोशी तोड़ने के लिए इसका प्रयोग भी किया जा सकता है। हमारी Aatma के और की यात्रा हमारे मन से ही शुरू होती है।कियो की हम अपने मन से ही सोचते है। यह यात्रा दो प्रकार की होती है। पहली Yatra में आप मन के भीतर ही चक्र लगाने लगते हो।

hypnosis

अपने ही विचारो में उलझ के रह जाते हो। एक तरह के भूल भुलैया में गुम होने वाली स्थिति हो जाती है। और दूसरी तरफ हो सकता है की आप जात्रा करते अपने मन के बहार निकल जाओ । दोनों हालत में आपको मन से ही गुजरना पड़ेगा। सम्मोहन का प्राथमिक चरण बही है। जो की ध्यान का। परंतु अंतिम चरण अलग अलग है। और दोनों का लक्ष्य भिन्न है। दोनों की प्रक्रिया में एक बुनियादी तत्व यह है की सम्मोहन चाहता है ।

तत्काल मोर्चा, और ध्यान चाहता है। इसलिए सम्मोहन का सारा सुझाव नींद से शुरू होगा। इसमें पहले आपको गहरी नींद में ले जाये गे। उसके बाद आपको सुझाव दिया जाये गा। अगर आप जागृत हो तो आप कभी भी सम्मोहित नही हो सकते। सम्मोहित सिर्फ बेहोस ब्यक्ति ही हो सकता है।सम्मोहन से ब्यक्ति को Samadhi से मिलती जुलती अवस्था में लाया जा सकता है। पर याद रहे की Hypnosis समाधी नही। यह तो सिर्फ ध्यान की शुरुवात है।

Related post

India के प्रसिद्ध नगरो के भूगोलिक उपनाम
India के प्रसिद्ध नगरो के भूगोलिक उपनाम
आभा मंडल-Aura क्या होता है और ये हमारी जिंदगी को कैसे प्रभावित करता है।
आभा मंडल-Aura क्या होता है और ये हमारी जिंदगी को कैसे प्रभावित करता है।
छठी इंद्री-Sixth Sense क्या होती है और इसके जागने पर क्या होता है
छठी इंद्री-Sixth Sense क्या होती है और इसके जागने पर क्या होता है
10 सबसे बेहतरीन Good Morning Message जिसे आप अपने दोस्तों को भेज करे दिन की अच्छी शुरुवात।
10 सबसे बेहतरीन Good Morning Message जिसे आप अपने दोस्तों को भेज करे दिन की अच्छी शुरुवात।
अगर आपकी पत्नी का है बैंक में अकाउंट तो हो जाएये सावधान modi news
अगर आपकी पत्नी का है बैंक में अकाउंट तो हो जाएये सावधान modi news
Ajay Devgan की लग्जरी लाइफ के बारे में जान आपके होश उड़ जायेगे।
Ajay Devgan की लग्जरी लाइफ के बारे में जान आपके होश उड़ जायेगे।
योगनिद्रा-Yoga Nidra एक ऐसी क्रिया है जिसे अपनाकर आप समस्त चिंताओं से मुक्त हो सकते हो।
योगनिद्रा-Yoga Nidra एक ऐसी क्रिया है जिसे अपनाकर आप समस्त चिंताओं से मुक्त हो सकते हो।
वृंदावन की एक प्रेरणादायक कहानी गुलाब सखी का चबूतरा के बारे में जानेंगे।
वृंदावन की एक प्रेरणादायक कहानी गुलाब सखी का चबूतरा के बारे में जानेंगे।
  1. May 21, 2019

    Nice one

Leave A Comment